दलित समाज सेविका सुधा वर्गीज सम्मानित

11 नवंबर को बिहार शिक्षा दिवस के अवसर पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दलित समाज सेविका सुधा वर्गीज को शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए मौलाना अबुल कलाम आजाद पुरस्कार से सम्मानित किया

पटना : पिछले 11 नवंबर को बिहार शिक्षा दिवस के अवसर पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दलित समाज सेविका सुधा वर्गीज को शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए मौलाना अबुल कलाम आजाद पुरस्कार से सम्मानित किया।

सुधा वर्गीज दलित समाज से आती हैं और दलितों के विकास के लिए अपना जीवन समर्पित कर चुकी हैं। दलित वर्ग की बालिकाओं के लिए वर्गीज पटना के दानापुर में ‘नारी गुंजन’ का संचालन करती हैं, जहां लड़कियां पढ़ती हैं। फारवर्ड प्रेस को उन्होंने बताया कि प्रदेश में मुसहर समाज के प्रति हो रहे अत्याचार से आहत होकर उन्होंने दानापुर में ‘नारी गुंजन’ की स्थापना की। गौरतलब है कि सुधा वर्गीज पद्मश्री से भी समानित हो चुकी हैं। 

 

(फारवर्ड प्रेस के जनवरी, 2014 अंक में प्रकाशित )


फारवर्ड प्रेस वेब पोर्टल के अतिरिक्‍त बहुजन मुद्दों की पुस्‍तकों का प्रकाशक भी है। एफपी बुक्‍स के नाम से जारी होने वाली ये किताबें बहुजन (दलित, ओबीसी, आदिवासी, घुमंतु, पसमांदा समुदाय) तबकों के साहित्‍य, सस्‍क‍ृति व सामाजिक-राजनीति की व्‍यापक समस्‍याओं के साथ-साथ इसके सूक्ष्म पहलुओं को भी गहराई से उजागर करती हैं। एफपी बुक्‍स की सूची जानने अथवा किताबें मंगवाने के लिए संपर्क करें। मोबाइल : +919968527911, ईमेल : info@forwardmagazine.in

About The Author

Reply