शर्मिला रेगे को सावित्री बाई फुले सम्मान

स्त्रीवादी पत्रिका, ‘स्त्रीकाल, स्त्री का समय और सच’ द्वारा प्रथम सावित्री बाई फुले वैचारिकी सम्मान की घोषणा की गई

वर्धा (महाराष्ट्र) : स्त्रीवादी पत्रिका, ‘स्त्रीकाल, स्त्री का समय और सच’ द्वारा प्रथम सावित्री बाई फुले वैचारिकी सम्मान की घोषणा की गई। अर्चना वर्मा, अरविंद जैन, हेमलता माहिश्वर, अनिता भारती, बजरंग बिहारी तिवारी व परिमला आम्बेकर की सदस्यता वाले निर्णायक मंडल ने 2015 के लिए शर्मिला रेगे को उनकी किताब ‘अगेंस्ट द मैडनेस ऑफ़ मनु, बी आर आम्बेडकर्स राईटिंग्स ऑन ब्राह्मनीकल पैट्रीआर्की’ के लिए सम्मानित करने का निर्णय लिया। प्रसिद्ध स्त्रीवादी विचारक शर्मिला रेगे, (7 अक्तूबर 1964 – 13 जुलाई 2013) दलित स्त्रीवाद की सैद्धांतिकी के निर्माण में अपनी अग्रणी भूमिका के लिए जानी जाती हैं। यह सम्मान पत्रिका द्वारा 19-20 फरवरी को गया बिहार में आयोजित होने वाले एक कार्यक्रम में दिया जाएगा।

 

(फारवर्ड प्रेस के फरवरी, 2015 अंक में प्रकाशित )


फारवर्ड प्रेस वेब पोर्टल के अतिरिक्‍त बहुजन मुद्दों की पुस्‍तकों का प्रकाशक भी है। एफपी बुक्‍स के नाम से जारी होने वाली ये किताबें बहुजन (दलित, ओबीसी, आदिवासी, घुमंतु, पसमांदा समुदाय) तबकों के साहित्‍य, सस्‍क‍ृति व सामाजिक-राजनीति की व्‍यापक समस्‍याओं के साथ-साथ इसके सूक्ष्म पहलुओं को भी गहराई से उजागर करती हैं। एफपी बुक्‍स की सूची जानने अथवा किताबें मंगवाने के लिए संपर्क करें। मोबाइल : +919968527911, ईमेल : info@forwardmagazine.in

About The Author

Reply