रामदेव के बयान पर दलित समाज में आक्रोश

हरियाणा प्रदेश अनुसूचित जाति-जनजाति कर्मचारी कल्याण संघ की अगुवाई में दिनांक 27 अप्रैल को विभिन्न दलित व पिछड़े वर्ग के सामाजिक संगठनों ने मिलकर स्थानीय महावीर चौक, नारनौल पर रामदेव का पुतला फूंका तथा उपायुक्त के नाम जिला पशासन को रामदेव की गिरफ़्तारी की मांग का ज्ञापन भी सौंपा

नारनौल, लखनऊ, दिल्ली : तथाकथित बाबा और स्वामी रामदेव के कांगेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के दलित परिवारों में जाने को लेकर दिए गए आपत्तिजनक बयान पर पूरे देश के दलित समाज में आक्रोश व्याप्त हो गया है। हरियाणा प्रदेश अनुसूचित जाति-जनजाति कर्मचारी कल्याण संघ की अगुवाई में दिनांक 27 अप्रैल को विभिन्न दलित व पिछड़े वर्ग के सामाजिक संगठनों ने मिलकर स्थानीय महावीर चौक, नारनौल पर रामदेव का पुतला फूंका तथा उपायुक्त के नाम जिला पशासन को रामदेव की गिरफ़्तारी की मांग का ज्ञापन भी सौंपा।

इस अवसर पर डॉ. भीमराव आंबेडकर समिति, अनुसूचित जाति व जनजाति उत्थान समिति, ऑल इंडिया कारपोरेशन महल अनुसूचित जाति विकास मंच, रविदास सभा तथा दलित सेना के अनेक दलित कार्यकर्ता उपस्थित थे। उधर लखनऊ में भी अधिवक्ता लाल जी प्रसाद निर्मल के नेतृत्व में आंबेडकर सभा ने प्रदर्शन किए और दिल्ली में दलित लेखिका अनीता भारती ने रामदेव के बयान के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है।

(फारवर्ड प्रेस के जून, 2014 अंक में प्रकाशित )


फारवर्ड प्रेस वेब पोर्टल के अतिरिक्‍त बहुजन मुद्दों की पुस्‍तकों का प्रकाशक भी है। एफपी बुक्‍स के नाम से जारी होने वाली ये किताबें बहुजन (दलित, ओबीसी, आदिवासी, घुमंतु, पसमांदा समुदाय) तबकों के साहित्‍य, संस्कृति  व सामाजिक-राजनीति की व्‍यापक समस्‍याओं के साथ-साथ इसके सूक्ष्म पहलुओं को भी गहराई से उजागर करती हैं। एफपी बुक्‍स की सूची जानने अथवा किताबें मंगवाने के लिए संपर्क करें। द मार्जिनालाज्ड प्रकाशन, इग्नू रोड, दिल्ली से संपर्क करें। मोबाइल : +919968527911, ईमेल : info@forwardmagazine.in

About The Author

Reply