दलित महिलाओं के साथ ब्रिटिश मंत्री

गत 13 जनवरी को ब्रिटेन की अपराध निवारण राज्य मंत्री लीनी फेदरस्टोन सीहोर जिले के ग्राम पगरियाराम पहुँची

देवास (मध्यप्रदेश) : गत 13 जनवरी को ब्रिटेन की अपराध निवारण राज्य मंत्री लीनी फेदरस्टोन सीहोर जिले के ग्राम पगरियाराम पहुँची, जहाँ देवास स्थित स्वयंसेवी संस्था ‘जनसाहस’ ब्रिटिश सरकार के अंतरराष्ट्रीय विकास विभाग डीएफआईडी के निर्धनतम क्षेत्र नागरिक समाज कार्यक्रम पेक्स के सहयोग से दलितों के सशक्तिकरण के लिए परियोजना चला रही है। अपनी यात्रा के दौरान मंत्री ने महिलाओं और बालिकाओं के विरुद्ध हिंसा की घटनाओं को रोकने पर जोर दिया, उन्होंने मैला ढोने व बंधुआ मजदूरी से मुक्त कराई गयी महिलाओं, बालिकाओं के एक समूह और बलात्कार व सेक्स अपराधों की शिकार महिलाओं से अलग-अलग मुलाकातें कीं।

मैला ढ़ोने के कार्य से मुक्त कराई गयी महिलाओं ने मंत्री को ‘डग्निटी एंड डिजाईन’ के कुछ उत्पाद भेंट किये। डग्निटी एंड डिजाईन योजना का उद्देश्य ऐसी महिलाओं का सामाजिक-आर्थिक पुनर्वास करना है। इसका संचालन इन्हीं के द्वारा किया जाता है। बलात्कार व सेक्स अपराधों की शिकार महिलाओं ने नंगे पैर चलने वाले वकीलों की जरूरत पर जोर दिया ताकि ऐसी महिलाओं को न्याय मिलना आसान हो सके। मंत्री ने समानता व स्वतंत्रता के लिए संघर्षरत महिलाओं से कहा के वे उनके साथ हैं। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरून ने लीनी फेदरस्टोन की नियुक्ति दुनिया के सभी देशों में महिलाओं व लड़कियों को उनके विरुद्ध होने वाली हिंसा से निपटने में मदद करने के लिए की है।

 

(फारवर्ड प्रेस के फरवरी, 2015 अंक में प्रकाशित )


फारवर्ड प्रेस वेब पोर्टल के अतिरिक्‍त बहुजन मुद्दों की पुस्‍तकों का प्रकाशक भी है। एफपी बुक्‍स के नाम से जारी होने वाली ये किताबें बहुजन (दलित, ओबीसी, आदिवासी, घुमंतु, पसमांदा समुदाय) तबकों के साहित्‍य, सस्‍क‍ृति व सामाजिक-राजनीति की व्‍यापक समस्‍याओं के साथ-साथ इसके सूक्ष्म पहलुओं को भी गहराई से उजागर करती हैं। एफपी बुक्‍स की सूची जानने अथवा किताबें मंगवाने के लिए संपर्क करें। मोबाइल : +919968527911, ईमेल : info@forwardmagazine.in

About The Author

Reply