हिंदू महासभा प्रतिबंधित हो : रिहाई मंच

पिछले 27 दिसंबर को आयोजित एक बैठक में रिहाई मंच लखनऊ ने देश मे साम्प्रदायिक तनाव बढ़ाने वालों की अविलंब गिरफ्तारी की मांग की

मेरठ(उत्तरप्रदेश) : पिछले 27 दिसंबर को आयोजित एक बैठक में रिहाई मंच लखनऊ ने देश मे साम्प्रदायिक तनाव बढ़ाने वालों की अविलंब गिरफ्तारी की मांग की। मंच के अध्यक्ष मुहम्मद शुएब के नेतृत्व मे राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे की मूर्ति लगाने के लिए हिन्दू महासभा द्वारा मेरठ में किए गए भूमिपूजन को राष्ट्रद्रोह करार देते हुए प्रदेश सरकार से हिन्दू महासभा को तत्काल प्रतिबंधित करने की मांग की गयी।

मंच ने मांग की है कि इस संगठन से वास्ता रखने वाले भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ, जिनके द्वारा 2007 में गोरखपुर में सांप्रदायिक भाषण देने के बाद पूर्वी उत्तरप्रदेश में सांप्रदायिक हिंसा हुई थी, के भाषण की सीडी की जांच में उनकी आवाज की पुष्टि हो जाने के बाद, आदित्यनाथ को तत्काल गिरफ्तार कर उनके संगठन हिंदू युवा वाहिनी को प्रतिबंधित किया जाए। मंच ने कहा कि सन 2008 में अहमदाबाद में हुए बम धमाकों के बाद मीडिया को मेल भेजकर विस्फोट की जिम्मेदारी लेने के आरोप में महाराष्ट्र के जिन 23 युवकों को मकोका के तहत पकड़ा गया था, उनके निर्दोष साबित हो जाने के बाद उन्हें अकारण हिरासत में लेने के लिए जि़म्मेदार खुफिया और सुरक्षा अधिकारियों पर कठोर कार्यवाही की जाए।

(फारवर्ड प्रेस के फरवरी, 2015 अंक में प्रकाशित )


फारवर्ड प्रेस वेब पोर्टल के अतिरिक्‍त बहुजन मुद्दों की पुस्‍तकों का प्रकाशक भी है। एफपी बुक्‍स के नाम से जारी होने वाली ये किताबें बहुजन (दलित, ओबीसी, आदिवासी, घुमंतु, पसमांदा समुदाय) तबकों के साहित्‍य, सस्‍क‍ृति व सामाजिक-राजनीति की व्‍यापक समस्‍याओं के साथ-साथ इसके सूक्ष्म पहलुओं को भी गहराई से उजागर करती हैं। एफपी बुक्‍स की सूची जानने अथवा किताबें मंगवाने के लिए संपर्क करें। मोबाइल : +919968527911, ईमेल : info@forwardmagazine.in

About The Author

Reply