दिल्ली के बुराड़ी में होगा भारी जुटान, भाग लेंगे देश भर के दलित साहित्यकार

इस दो दिवसीय सम्मेलन में देश भर के दलित बुद्धिजीवी भाग लेंगे। बाहर से आने वाले प्रतिनिधियों के लिए आयोजकों द्वारा ठहराने की व्यवस्था की गई है

मौजूदा दौर में दलित साहित्य को लेकर चल रहे विभिन्न विमर्शों का गवाह बनेगा 8-9 दिसंबर, 2019 को आयोजित होने वाला 35वां राष्ट्रीय दलित साहित्यकार सम्मेलन। इस दो दिवसीय सम्मेलन का आयोजन भारतीय दलित साहित्य अकादमी के तत्वाधान में किया जा रहा है।

आयोजन स्थल का पूरा पता – पंचशील आश्रम, झड़ोदा गांव, बुराड़ी बाई पास, ( निरंकारी समागम ग्राउंड के सामने), आउटर रिंग रोड़, दिल्ली-84 है।  

भारतीय दलित साहित्य अकादमी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. सोहनपाल सुमनाक्षर के मुताबिक, इस सम्मेलन में देश के सभी राज्यों के, सभी भाषाओं के दलितोत्थान में जुटे दलित साहित्यकार, पत्रकार, लेखक, समाजसेवी आदि भाग लेंगे। वे दलितोत्थान से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर विचार विमर्श करेंगे। 

उन्होंने बताया कि इस आयोजन में दलित नेताओं को भी आमंत्रित किया गया है। एक तरह से यह सभी लोगों के लिए खुला सम्मेलन है। बाहर से आए सभी प्रतिनिधियों के लिए आवास की व्यवस्था अकादमी की ओर से चुग धर्मशाला, विरला मंदिर के समाने, नई दिल्ली तथा सम्मेलन स्थल-पंचशील आश्रम, झड़ोदा गांव ( बुराड़ी बाईपास) दिल्ली-84 में की गई है। विशेष सहायता के लिए डॉ. सोहनपाल सुमनाक्षर से उनके मोबाइल संख्या 9810278936 पर संपर्क किया जा सकता है।

 

(कॉपी संपादन : सिद्धार्थ)


 

                                    

About The Author

Reply