author

Dwarka Bharti

भारतीय ‘राष्ट्रवाद’ की गत
आज हिंदुत्व के अर्थ हैं– शुद्ध नस्ल का एक ऐसा दंगाई-हिंदू, जो सावरकर और गोडसे के पदचिह्नों को...
जाति के विनाश का सवाल अनुत्तरित क्यों है?
इसरो के चेयरमैन एस. सोमनाथ ने यह दावा भी किया कि अलजेब्रा, समय के सिद्धांत, आर्किटेक्चर और यहां...
क्या सहिष्णुता हिंदू धर्म का प्रमुख हिस्सा है?
किसी को जान से मार देना ही मात्र हिंसा या असहिष्णुता नहीं होती, बल्कि किसी को समाज में...
Award for Gita Press: What does it imply?
The books published by Gita Press have nothing to do with non-violence or social change. It would be...
गीता प्रेस को सम्मान देने का मतलब
इस प्रकाशन संस्थान द्वारा छापे जा रहे साहित्य को देखें तो दोनों का दूर-दूर तक कोई संबंध दृष्टिगोचर...
हिंदुत्व की तहें उघाड़ती किताब
यह पुस्तक जहां एक ओर ब्राह्मणवाद की तमाम धूर्तताओं को नंगा करती है, वही दूसरी ओर उस भूली-बिसरी...
अमृतपाल प्रकरण : कुछ भी बे-सियासत नहीं
ऐसा भी नहीं है कि भगवंत सिंह मान की सरकार पर कोई दोष मढ़ा नहीं जा रहा, लेकिन...
भारत में वैज्ञानिक परंपराओं के विकास में बाधक रहा है ब्राह्मणवाद
कई उद्धरणों से ब्राह्मणवादी ग्रंथ भरे पड़े हैं, जिनसे भलीभांति ज्ञात होता है कि भारतीय खगोल-विद्या व विज्ञान...
और आलेख