author

Dwarka Bharti

बहस-तलब : ‘वसुधैव कुटुंबकम्’ क्या वेद वाक्य है?
‘वसुधैव कुटुंबकम्’ जैसी तमाम उक्तियों को ढाल बनाकर अक्सर ब्राह्मणवादी वाङ्मय में व्याप्त उन तमाम सामाजिक असमानताओं को...
‘Vasudhaiva Kutumbakam’: Does it have its origin in the Vedas?
The issue is not only that these mythological texts are being hailed as repositories of Indian culture but...
बहस-तलब : ‘वसुधैव कुटुंबकम्’ क्या वेद वाक्य है?
‘वसुधैव कुटुंबकम्’ जैसी तमाम उक्तियों को ढाल बनाकर अक्सर ब्राह्मणवादी वाङ्मय में व्याप्त उन तमाम सामाजिक असमानताओं को...
दलित गए, आदिवासी आए
शमशेर सिंह दुल्लो 2005 से लेकर 2008 तक पंजाब कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष रहे। उन्होंने कहा कि “दलितों...
दलित गए, आदिवासी आए
शमशेर सिंह दुल्लो 2005 से लेकर 2008 तक पंजाब कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष रहे। उन्होंने कहा कि “दलितों...
The mere symbolism of a Dalit face in government
Shamsher Singh Dullo was the president of the Punjab Congress Committee from 2005 to 2008. He told Dwarka...
दलित गए, आदिवासी आए
शमशेर सिंह दुल्लो 2005 से लेकर 2008 तक पंजाब कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष रहे। उन्होंने कहा कि “दलितों...
दलित पैंथर : पचास साल पहले जिसने रोक दिया था सामंती तूफानों को
दलित पैंथर के बारे में कहा जाता है कि उसका नाम सुनते ही नामी गुंडे भी थर्रा उठते...
और आलेख