h n

भगाना के दोषियों को सजा मिलनी चाहिए : कश्यप

वर्तमान में ओबीसी सशक्तिकरण के वास्ते जो आरक्षण मिल रहा है वह भी अधूरा है। 27 प्रतिशत आरक्षण प्रथम श्रेणी से चतुर्थ श्रेणी तक मिलना चाहिए, जबकि यह आरक्षण केवल तृतीय व चतुर्थ श्रेणी के पदों के लिए दिया जा रहा है। यह आरक्षण प्रथम से चतुर्थ श्रेणी तक सभी में 27 प्रतिशत तक मिले, इसके लिए मैं राज्यसभा में आवाज उठाऊंगा

राज्यसभा सदस्य के रूप में मेरी नियुक्ति इंडियन नेशनल लोकदल के कार्यकर्ता होने के कारण हुई है। मुझे गर्व है कि मैं पिछड़ी जाति में पैदा हुआ हूं। साथ ही मुझे अपनी जाति पर भी गर्व है। जिस पिछड़े वर्ग से होने के कारण राज्यसभा सदस्य के रूप में मेरी नियुक्ति हुई है उस वर्ग की आवाज मैं राज्यसभा में बुलंद तरीके से उठाऊंगा तथा उनको न्याय दिलाने की भरपूर कोशिश करूंगा।

पिछड़े वर्ग की संख्या के हिसाब से इस वर्ग को राजनीति में सबसे ज्यादा होना चाहिए था लेकिन अफ सोस ऐसा नहीं है। इसके पीछे मैं समझता हूं कि शिक्षा व राजनीतिक चेतना की कमी है। इसलिए वे समाज में पीछे हैं। वर्तमान में ओबीसी के सशक्तिकरण के वास्ते जो आरक्षण मिल रहा है वह भी अधूरा है। 27 प्रतिशत आरक्षण प्रथम श्रेणी से चतुर्थ श्रेणी तक मिलना चाहिए, जबकि यह आरक्षण केवल तृतीय व चतुर्थ श्रेणी के पदों के लिए दिया जा रहा है। यह आरक्षण प्रथम से चतुर्थ श्रेणी तक सभी में 27 प्रतिशत तक मिले इसके लिए मैं राज्यसभा में आवाज उठाऊंगा तथा मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि हरियाणा में इनेलो की सरकार यदि आई तो सभी श्रेणियों में 27 प्रतिशत आरक्षण लागू किया जाएगा। आरक्षण देना केंद्र व राज्य सरकार का काम है। मेरी राय में आरक्षण आर्थिक आधार पर होना चाहिए परंतु पिछड़े वर्ग को जो पहले से 27 प्रतिशत आरक्षण मिला हुआ है उसका हनन बिलकुल भी नहीं होना चाहिए। अगर आरक्षण का हनन हो रहा है तो मैं इसके लिए राज्य व केंद्र की कांग्रेस सरकारों को जिम्मेवार मानता हूं, जिनने पिछड़े वर्ग के लोगों के लिए आरक्षण ठीक ढंग से लागू नहीं किया तथा ना ही उनके लिए शिक्षा का प्रावधान किया। भगाना में दलित लड़कियों का उत्पीडऩ हुआ है। ऐसे अपराध करने वालों को सजा मिलनी चाहिए। इसके लिए हमारी पार्टी इनेलो उन उत्पीडि़त लड़कियों का पूरा-पूरा सहयोग करेगी तथा उनकी आवाज को राज्यसभा में भी उठाने का कार्य हम करेंगे।

16वीं लोकसभा के चुनाव में हमारी पार्टी ने दो टिकट पिछड़ा वर्ग के सदस्यों को वितरित किए हैं, जिनमें से पहला भिवानी-महेन्द्रगढ़ लोकसभा क्षेत्र से तथा दूसरा कुरुक्षेत्र लोकसभा सीट से दिया गया है। एक टिकट अल्पसंख्यक को गुडग़ांवा-रेवाड़ी लोकसभा क्षेत्र से तथा दूसरा टिकट अम्बाला से दलित नेत्री कुसुम शेरवाल को दिया गया है। जहां तक हरियाणा में इसी साल होने वाले विधानसभा चुनाव की बात है तो उसमें भी हमारी पार्टी इनेलो पिछड़े वर्ग को 27 प्रतिशत टिकट देगी। यह सुनिश्चित है। इस वर्ष भी हमारी पार्टी ने जिसे राज्यसभा सदस्य बनाया है, वह मैं स्वयं हूं जो पिछड़े वर्ग के अंतर्गत आता है। पिछली बार भी रणवीर सिंह प्रजापत (गंगवा) जो पिछड़ी जाति से हैं, को हमारी पार्टी ने राज्यसभा सदस्य बनाया था।

इनेलो के राज्यसभा सांसद राजकुमार कश्यप से यह बातचीत फॉरवर्ड प्रेस के नारनौल संवाददाता संजय मान ने की है।

 

(फारवर्ड प्रेस के जून, 2014 अंक में प्रकाशित)


फारवर्ड प्रेस वेब पोर्टल के अतिरिक्‍त बहुजन मुद्दों की पुस्‍तकों का प्रकाशक भी है। एफपी बुक्‍स के नाम से जारी होने वाली ये किताबें बहुजन (दलित, ओबीसी, आदिवासी, घुमंतु, पसमांदा समुदाय) तबकों के साहित्‍य, संस्कृति  व सामाजिक-राजनीति की व्‍यापक समस्‍याओं के साथ-साथ इसके सूक्ष्म पहलुओं को भी गहराई से उजागर करती हैं। एफपी बुक्‍स की सूची जानने अथवा किताबें मंगवाने के लिए संपर्क करें। द मार्जिनालाज्ड प्रकाशन, इग्नू रोड, दिल्ली से संपर्क करें। मोबाइल : +919968527911, ईमेल : info@forwardmagazine.in

लेखक के बारे में

संजय मान

संबंधित आलेख

अयोध्या में राम : क्या सोचते हैं प्रयागराज के दलित-बहुजन?
बाबरी मस्जिद ढहाने और राम मंदिर आंदोलन में दलित-बहुजनों की भी भागीदारी रही है। राम मंदिर से इन लोगों को क्या मिला? राम मंदिर...
सरकार के शिकंजे में सोशल मीडिया 
आमतौर पर यह माना जाने लगा है कि लोगों का ‘प्यारा’ सोशल मीडिया सरकार का खिलौना बन गया है। केंद्र सरकार ने कानूनों में...
जातिवादी व सांप्रदायिक भारतीय समाज में लोकतंत्र सफल नहीं हो सकता
डॉ. आंबेडकर को विश्वास था कि यहां समाजवादी शासन-प्रणाली अगर लागू हो गई, तो वह सफल हो सकती है। संभव है कि उन्हें यह...
किसान आंदोलन के मुद्दों का दलित-भूमिहीनों से भी है जुड़ाव : मुकेश मलोद
‘यदि सरकार का नियंत्रण नहीं होगा तो इसका एक मतलब यह भी कि वही प्याज, जिसका वाजिब रेट किसान को नहीं मिल रहा है,...
कह रहे प्रयागराज के बहुजन, कांग्रेस, सपा और बसपा एकजुट होकर चुनाव लड़े
राहुल गांधी जब भारत जोड़ो न्याय यात्रा के क्रम में प्रयागराज पहुंचे, तब बड़ी संख्या में युवा यात्रा में शामिल हुए। इस दौरान राहुल...