h n

बीएमपी 400 सीटों पर लड़ेगी लोकसभा चुनाव

बामसेफ एवं भारत मुक्ति मोर्चा से प्रेरणा लेकर बनी बहुजन मुक्ति पार्टी आगामी लोकसभा चुनाव में लगभग 400 सीटों पर चुनाव लड़ेगी

नई दिल्ली : बामसेफ एवं भारत मुक्ति मोर्चा से प्रेरणा लेकर बनी बहुजन मुक्ति पार्टी आगामी लोकसभा चुनाव में लगभग 400 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। यह घोषणा बीएमपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष वीएल मातंग ने प्रेस क्लब ऑफ इंडिया में दिनांक 11 नवंबर को आयोजित एक प्रेस कांफ्रेंस में की। इस मौके पर पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमानुल्लाह खान, अरुण कुमार, डॉ. एस अकमल, जितेन्द्र कुमार, पुखराज, हरियाणा प्रदेश अध्यक्ष कमलचंद, दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष राजेश कुमार प्रजापति आदि उपस्थित थे। वहीं दूसरी ओर महाराष्ट्र के नागपुर स्थित अनंत नगर में 10 नवंबर को बीएमपी ने मुस्लिम सम्मेलन का आयोजन किया। इस सम्मेलन में जमाते इस्लामी हिन्द, मूलनिवासी मुस्लिम मंच, स्टूडेंट इस्लामिक आर्गेनाईजेशन, भारतीय विद्यार्थी मोर्चा, इम्पा के साथ वेलफेयर पार्टी ऑफ इंडिया के नागपुर इकाई ने भाग लिया।


फारवर्ड प्रेस वेब पोर्टल के अतिरिक्‍त बहुजन मुद्दों की पुस्‍तकों का प्रकाशक भी है। एफपी बुक्‍स के नाम से जारी होने वाली ये किताबें बहुजन (दलित, ओबीसी, आदिवासी, घुमंतु, पसमांदा समुदाय) तबकों के साहित्‍य, सस्‍क‍ृति व सामाजिक-राजनीति की व्‍यापक समस्‍याओं के साथ-साथ इसके सूक्ष्म पहलुओं को भी गहराई से उजागर करती हैं। एफपी बुक्‍स की सूची जानने अथवा किताबें मंगवाने के लिए संपर्क करें। मोबाइल : +919968527911, ईमेल : info@forwardmagazine.in

लेखक के बारे में

अमरेन्द्र यादव

अमरेन्द्र यादव फारवर्ड प्रेस के प्रमुख संवाददाता हैं।

संबंधित आलेख

ईडब्ल्यूएस आरक्षण लोकतांत्रिक संविधान में जातिगत भेदभाव का आगाज़: प्रोफेसर जी. मोहन गोपाल
हाशियाकृत और प्रतिनिधित्व से वंचित सामाजिक समूहों की गोलबंद होने और सत्ता में अपना जायज़ हिस्सा मांगने की ताकत और क्षमता को समाप्त करना...
बहस-तलब : कौन है श्वेता-श्रद्धा का गुनहगार?
डॉ. आंबेडकर ने यह बात कई बार कही कि जाति हमारी वैयक्तिकता का सम्मान नहीं करती और जिस समाज में वैयक्तिकता नहीं है, वह...
ओबीसी के हितों की अनदेखी नहीं होने देंगे : हंसराज गंगाराम अहिर
बहुजन साप्ताहिकी के तहत इस बार पढ़ें ईडब्ल्यूएस संबंधी संविधान पीठ के फैसले को कांग्रेसी नेत्री जया ठाकुर द्वारा चुनाैती दिये जाने व तेलंगाना...
धर्मांतरण देश के लिए खतरा कैसे?
इस देश में अगर धर्मांतरण पर शोध किया जाए, तो चौंकाने वाले तथ्य सामने आएंगे। और वह यह कि सबसे ज्यादा धर्म-परिवर्तन इस देश...
डिग्री प्रसाद चौहान के खिलाफ मुकदमा चलाने की बात से क्या कहना चाहते हैं तुषार मेहता?
पीयूसीएल की छत्तीसगढ़ इकाई के अध्यक्ष और मानवाधिकार कार्यकर्ता डिग्री प्रसाद चौहान द्वारा दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान तुषार मेहता...