h n

विश्लेषण

-

क्लिक करें :

Don’t shy away from Caste Census 2012 – there is technology

उपरोक्त सामग्री अभी सिर्फ हिंदी में उपलब्ध है। अगर आप इसका अंग्रेजी अनुवाद करना चाहते हैं तो कृपया संपर्क करें। गुणवत्तापूर्ण अनुवादों को हम आपके नाम के साथ प्रकाशित करेंगे।  Email : editor@forwardpress.in


[फारवर्ड  प्रेस भारत के  सामाजिक व सांस्कृतिक रूप से दबाए गए तबकों – यथा, अन्य पिछडा वर्ग, अनुसूचित जनजातियों, विमुक्त घुमंतू जनजातियों, धर्मांतरित अल्पसंख्यकों से संबंधित मुद्दों को आवाज देने लिए प्रतिबद्ध है। यह एक द्विभाषी (अंग्रेजी-हिंदी) वेबसाइट है। हम हर सामग्री  हिंदी व अंग्रेजी में प्रकाशित करते हैं, ताकि इन्हें यथासंभव देश-व्यापी पाठक वर्ग मिल सके। लेखक व स्वतंत्र पत्रकार अपने लेख दोनों में से किसी एक भाषा में भेज सकते हैं।

फारवर्ड प्रेस के इस अभियान का सुचारू रूप से संचालन के लिए ऐच्छिक योगदान करने के इच्छुक अनुभवी अनुवादकों का  स्वागत है]

मुखपृष्ठ पर जाने के लिए यहां क्लिक करें :

 

लेखक के बारे में

नजीमुद्दीन सिद्दीकी

चिरांग, असम के नजीमुद्दीन सिद्दीकी स्वतंत्र शोधकर्ता हैं। वे मुख्य रूप से पूर्वोत्तर के हाशिए के समाज/समुदायों के विषयों पर लिखते हैं

संबंधित आलेख

जातिगत जनगणना की आवश्यकता को स्थापित कर रही है वर्ल्ड इक्वलिटी लैब की अद्यतन रिपोर्ट
‘वर्ल्ड इक्वलिटी लैब’ की रपट एक बार फिर जातिगत व्यवस्था और अमीर-गरीब के बीच संबंधों की ओर स्पष्ट रूप से इशारा करती है। रपट...
लोकसभा चुनाव परिणाम ने स्पष्ट कर दिया है सामाजिक न्याय के एजेंडे का महत्व
इस बार सामाजिक न्याय केवल कुछ चेहरों के साथ और कुछ जातियों के अंकगणितीय जोड़ पर खड़ा नहीं हुआ, बल्कि वह व्यापक मुद्दों के...
सुरक्षित संविधान के अलावा वी.पी. सिंह के प्रति आभारी होने के और भी कारण हैं हमारे पास
मंडल कमीशन को लागू कर देश की राजनीतिक दिशा में ऐतिहासिक बदलाव लाने वाले वी.पी. सिंह की 93वीं जयंती पर उन्हें याद करने के...
चुनाव के तुरंत बाद अरुंधति रॉय पर शिकंजा कसने की कवायद का मतलब 
आज़ादी के आंदोलन के दौर में भी और आजाद भारत में भी धर्मनिरपेक्षता और वास्तविक लोकतंत्र व सामाजिक न्याय के सवाल को ज्यादातर निर्णायक...
अब संसद मार्ग से संसद परिसर में नज़र नहीं आएंगे डॉ. आंबेडकर
लोगों की आंखों में बाबा साहेब को श्रद्धांजलि देने की अधीरता साफ दिख रही थी। मैंने भारत में किसी राजनीतिक जीवित या मृत व्यक्ति...