दलित-बहुजन पेज 3, जनवरी 2016

योर्क विश्वविद्यालय के शोध एवं नवाचार उप-प्रमुख रोबर्ट हेक ने कहा कि ”योर्क विश्वविद्यालय सामाजिक न्याय के प्रति प्रतिबद्ध है…डॉ आंबेडकर जैसी हस्तियाँ हमें यह याद दिलाती हैं कि अभी हमें काफी कुछ करना बाकी है…’’

कनाडा में आंबेडकर की दूसरी प्रतिमा स्थापित

Ambedkar@YorkU_2Dec15_group shot_sharp

(दायें से बाएं) एआईएम कनाडा के सदस्यों के साथ रीड – प्रोफेसर अरुण गौतम, सुखदेव थोराट, अनन्या मुखर्जी

bust 2 दिसंबर, 2015 को टोरंटो का योर्क विश्वविद्यालय, कनाडा का दूसरा व विश्व का चौथा ऐसा विश्वविद्यालय बना, जिसने डाक्टर बीआर आंबेडकर की मूर्ति अपने प्रांगण में स्थापित कर उन्हें सम्मानित किया। टोरंटो के आंबेडकर इंटरनेशनल मिशन (एआईएम) द्वारा भेंट की गयी कांसे की इस मूर्ति को विश्वविद्यालय के स्कॉट पुस्तकालय में स्थापित किया गया है। मूर्ति का अनावरण कनाडा में भारतीय उच्चायुक्त विष्णु प्रकाश ने किया। इस अवसर पर एआईएम के अध्यक्ष अरुण गौतम सहित अन्य अतिथि उपस्थित थे। कार्यक्रम में योर्क विश्वविद्यालय के शोध एवं नवाचार उप-प्रमुख रोबर्ट हेक ने कहा कि ”योर्क विश्वविद्यालय सामाजिक न्याय के प्रति प्रतिबद्ध है…डॉ आंबेडकर जैसी हस्तियाँ हमें यह याद दिलाती हैं कि अभी हमें काफी कुछ करना बाकी है…’’। भारतीय समाज विज्ञान परिषद के अध्यक्ष डॉ सुखदेव थोराट ने कार्यक्रम में बीज वक्तव्य दिया।

 

 

haribhau 1

हरिभाऊ राठोड

 

अति पिछड़ा वर्ग और विमुक्त घुमंतु जनजाति के विशाल आरक्षण रैली

ओ.बी.सी. आरक्षण में अति पिछड़ा वर्ग और विमुक्त घुमंतु जनजातियों के लिए 27 प्रतिशत आरक्षण की मांग लेकर पूरे देश के लोग पूर्व सांसद एवं वर्तमान में महाराष्ट्र से एमएलसी हरिभाऊ राठोड़ के साथ 27 मार्च 2016 को दिल्ली के जंतर-मंतर पर विशाल रैली का आयोजन करेंगे। इस रैली में अति पिछड़ा वर्ग जातियों ‘न्हावी, खाती, लोहार, सुतार, कुंभार, तेली, माली, कोली, धोबी, गोवारी आदि’और विमुक्त घुमंतुजनजातियों ‘बंजारा, कालबेलिया, सपेरा, कहार, कश्यप, पाल, बघेल, सांसी, कोली, लोध, गडेरिया, धनगढ़ आदि’के लिए पिछड़ा वर्ग को दिए गए 27 प्रतिशत आरक्षण में बराबर का आरक्षण की मांग की जाएगी।

( फारवर्ड प्रेस के जनवरी, 2016 अंक में प्रकाशित) 

About The Author

Reply