जावडेकर का वादा, शोधार्थियों को हर महीने 30 तरीख को मिल जाएगी फेलोशिप

 सरकार ने दावा किया है कि 30 नवम्बर को फेलोशिप की पहली किस्त जारी की जा चुकी है तथा बकाया फेलोशिप के लिए 250 करोड़ रुपये स्वीकृत कर दिए गए हैं

दिल्ली : विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) व एसआईसीटीई के माध्यम से मिलने वाली फेलोशिप व स्कालरशिप अब हर महीने 30 तारीख को लाभार्थियों  के बैंक खाते में जमा हो जाएगी।

गौरतलब है कि पिछले कुछ समय से विभिन्न विश्विद्यालयों से जुड़े शोधार्थी फेलोशिप बढ़ाए जाने तथा इसे समय से देने की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे हैं।

विभिन्न समाचार पत्रों में प्रकाशित खबर के मुताबिक मानव संसाधन विकास मंत्री ने 26 दिसम्बर को दावा किया कि अब से किसी लाभार्थी को फेलोशिप मिलने में देरी नहीं होगी। उन्होंने कहा कि हर महीने की 30 तारीख को फेलोशिप और स्कालरशिप विद्यार्थियों के खाते में डालने के लिए नया सिस्टम तैयार कर लिया गया है।

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर

मंत्री ने बताया कि 30 नवम्बर को पहली किस्त जारी की जा चुकी है तथा बकाया फेलोशिप के लिए 250 करोड़ रुपये स्वीकृत कर दिए गए हैं।

(कॉपी संपादन – अर्चना)


फारवर्ड प्रेस वेब पोर्टल के अतिरिक्‍त बहुजन मुद्दों की पुस्‍तकों का प्रकाशक भी है। एफपी बुक्‍स के नाम से जारी होने वाली ये किताबें बहुजन (दलित, ओबीसी, आदिवासी, घुमंतु, पसमांदा समुदाय) तबकों के साहित्‍य, सस्‍क‍ृति व सामाजिक-राजनीति की व्‍यापक समस्‍याओं के साथ-साथ इसके सूक्ष्म पहलुओं को भी गहराई से उजागर करती हैं। एफपी बुक्‍स की सूची जानने अथवा किताबें मंगवाने के लिए संपर्क करें। मोबाइल : +917827427311, ईमेल : info@forwardmagazine.in

फारवर्ड प्रेस की किताबें किंडल पर प्रिंट की तुलना में सस्ते दामों पर उपलब्ध हैं। कृपया इन लिंकों पर देखें 

बहुजन साहित्य की प्रस्तावना 

दलित पैंथर्स : एन ऑथरेटिव हिस्ट्री : लेखक : जेवी पवार 

महिषासुर एक जननायक’

महिषासुर : मिथक व परंपराए

जाति के प्रश्न पर कबी

चिंतन के जन सरोकार

About The Author

Reply