h n

आइए बहुजन कैलेण्डर बनाएं!

भारत के अधिसंख्‍यक सामाजिक समूह सामाजिक-आर्थिक ही नहीं, सांस्‍कृतिक शोषण और दमन का भी शिकार रहे हैं। वर्चस्‍वकारी मनुुवादी संस्‍कृति द्वारा उनकी परंपराएं और त्‍योहार नष्‍ट कर डालने की कोशिशें की गयीं। उनके महापुरूषों के नायकत्‍व को गौण करने तथा कुछ मामलों में में उनके खलनायकीकरण की कोशिशें की गयीं। आज जब शिक्षा के प्रसार के कारण इन तबकों में जागृति आ रही तो वे अपनी परंपराओं, नायक-नायिकाओं की तलाश कर रहे हैं। इस बहुजन कैंलेंडर के प्रकाशन का उद्देश्‍य उनकी इस खोज में सहायता प्रदान करने के लिए किया जा रहा है

कैलेंडर पर आपके सुझाव आमंत्रित हैं। अगर आप कोई नाम अथवा तारीख इसमें जोडना चाहते हैं तो कृपया इसके लिए अपने तर्क के साथ टिप्‍प्‍णी करें। सभी टिप्‍पणियों पर फारवर्ड प्रेस का संपादक मंडल गौर करेगा तथा जिनके लिए उचित तर्क उपलब्‍ध होंगे, उन्‍हें कैंलेंडर में जोड़ दिया जाएगा।

 

बहुजन कैलेण्डर

savitribai-phule
सावित्रीबाई फुले

जनवरी

दिनांकअवसर
1 जनवरी 1818भीमा कोरेगांव की लड़ाई
1 जनवरी 1848फुले दंपति ने लड़कियों के लिए भारत का पहला स्कूल पुणे में खोला
3 जनवरी 1831सावित्री बाई फुले जयंती (सर्वशिक्षा दिवस)
12 जनवरी 1972चंद्रिका प्रसाद जिज्ञासु परिनिर्वाण दिवस
(जिज्ञासु का जन्म वर्ष 1885 में हुआ, तिथि ज्ञात नहीं)
13 जनवरी 1874तिलका मांझी शहादत दिवस
24 जनवरी 1924कर्पूरी ठाकुर जयंती
26 जनवरी 1950भारत का संविधान लागू हुआ
29 जनवरी 1904जोगेन्द्र नाथ मंडल जयंती

फरवरी

दिनांकअवसर
2 फरवरी 1922जगदेव प्रसाद जयंती
2 फरवरी 1949डॉ. मोतीरावण कंगाली जयंती
7 फरवरी, 1898 रमाबाई आंबेडकर जयंती
7 फरवरी 1993ललई सिंह यादव परिनिर्वाण दिवस
11 फरवरी 1750तिलका मांझी जयंती
14 फरवरी 1887सन्तराम बी. ए. जयंती
17 फरवरी 1879पोयकैलिल अप्पचन जयंती
19 फरवरी, 1630छत्रपति शिवाजी महाराज जयंती
माघ महीने के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा
(विक्रम संवत के अनुसार)
रैदास जयंती
(रैदास जयंती विक्रम संवत के अनुसार मनाई जाती है। यह दिन अंग्रेजी कैलेण्डर में प्रायः जनवरी या फरवरी माह में आता है। हर वर्ष इसकी तारीख अलग-अलग होती है।)
23 फरवरी 1873गाडगे जयंती

मार्च

दिनांकअवसर
6 मार्च 1968सहोदरन अय्यप्पन परिनिर्वाण दिवस
10 मार्च 1897सावित्रीबाई फुले परिनिर्वाण दिवस
15 मार्च 1934कांशी राम जयंती
20 मार्च 1927महाड़ सत्याग्रह जयंती
23 मार्च 1931भगत सिंह शहीद दिवस
23 मार्च 1910राम मनोहर लोहिया जयंती
phule-ambedkar
जोतिबा फुले-भीमराव आंबेडकर

 अप्रैल

दिनांक अवसर
4 अप्रैल 1890झलकारीबाई शहादत दिवस
5 अप्रैल 1908जगजीवन राम जयंती
11 अप्रैल 1827जोतीराव फुले जयंती
11 अप्रैल 1943लाल सिंह दिल जयंती
14 अप्रैल 1891आंबेडकर जयंती
चैत शुक्ल अष्टमी
(विक्रम संवत के अनुसार)
अशोक जयंती
(अशोक जयंती विक्रम संवत के अनुसार मनाई जाती है। यह दिन अंग्रेजी कैलेण्डर में प्रायः अप्रैल माह में आता है। हर वर्ष इसकी तारीख अलग-अलग होती है।)
वैशाख शुक्ल तृतीय
(विक्रम संवत के अनुसार)
बसव जयंती
(बसव जयंती विक्रम संवत के अनुसार मनाई जाती है। यह दिन अंग्रेजी कैलेण्डर में प्रायः अप्रैल या मई माह में आता है। हर वर्ष इसकी तारीख अलग-अलग होती है।)

मई

दिनांकअवसर
1 मईअंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस
5 मई 1914अयोथी दास परिनिर्वाण दिवस
6 मई 1922शाहूजी महाराज परिनिर्वाण दिवस
6 मई 1879अछूतानंद जयंती
11 मई 1952बोधानंद परिनिर्वाण दिवस
20 मई 1845अयोथी दास जयंती
birsa-munda
बिरसा मुंडा

जून

दिनांकअवसर
1 जून 1873जोतिबा फुले की किताब गुलामगिरी प्रकाशित
1 जून 1968अर्जक संघ स्थापना दिवस
9 जून 1900बिरसा मुंडा शहादत दिवस
18 जून 1941अयंकलि परिनिर्वाण दिवस
जेठ महीने के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा
(विक्रम संवत के अनुसार)
कबीर जयंती
(कबीर जयंती विक्रम संवत के अनुसार मनाई जाती है. यह दिन अंग्रेजी कैलेण्डर में प्रायः जून माह में आता है. हर वर्ष इसकी तारीख अलग-अलग होती है)
26 जून 1874शाहूजी महाराज जयंती
29 जून 1939पोयकैलिल अप्पचन परिनिर्वाण दिवस
30 जून 1855हुल दिवस (सिद्धू-कान्हू शहादत दिवस)

जुलाई

दिनांकअवसर
10 जुलाई 1971भिखारी ठाकुर परिनिर्वाण दिवस
22 जुलाई 1933अछूतानंद परिनिर्वाण दिवस
26 जुलाई 1902आरक्षण दिवस

अगस्त

दिनांकअवसर
2 अगस्त, 1941डॉ. गेल ऑम्वेट की जयंती
7 अगस्त 1990मंडल दिवस (ओबीसी आरक्षण के लागू करने की घोषणा)
9 अगस्तविश्व आदिवासी दिवस (संयुक्त राष्ट्र संघ ने 1994 में घोषित किया कि हर वर्ष 9 अगस्त को विश्व आदिवासी दिवस मनाया जाएगा।)
14 अगस्त 2007लाल सिंह दिल परिनिर्वाण दिवस
15 अगस्त 1947स्वतंत्रता दिवस
20 अगस्त 1856नारायण गुरु जयंती
21 अगस्त 1889 सहोदरन अय्यप्पन जयंती
22 अगस्त 1923रामस्वरूप वर्मा जयंती
25 अगस्त, 2021डॉ. गेल ऑम्वेट का महापरिनिर्वाण दिवस
28 अगस्त 1863अयंकलि जयंती
periyar
पेरियार ईवी रामास्वामी

सितम्बर

दिनांकअवसर
1 सितम्बर 1911ललई सिंह यादव जयंती
11 सितम्बर 1957थियाकी इमेन्यूल सीकरन परिनिर्वाण दिवस
17 सितम्बर 1879ईवी रामास्वामी पेरियार जयंती
20 सितम्बर 1928नारायण गुरु परिनिर्वाण दिवस
24 सितम्बर 1873सत्यशोधक समाज स्थापना दिवस
27 सितम्बर 1907भगत सिंह जयंती

अक्टूबर

दिनांकअवसर
5 अक्टूबर 1968 जोगेन्द्र नाथ मंडल का निधन
9 अक्टूबर 2006कांशीराम का निधन
9 अक्टूबर 1924थियाकी इमेन्युल सीकरन जयंती
14 अक्टूबर 1956डॉ आंबेडकर का धर्मान्तरण  दिवस (धम चक्र प्रवर्तन दिवस)
15 अक्टूबर 1934पहली बार देवदासी प्रथा विरोधी बिल पास हुआ (बाम्बे विधान परिषद)
अश्विन शुक्ल शरद पूर्णिमा
(विक्रम संवत के अनुसार)
महिषासुर शहादत दिवस
(महिषासुर शहादत दिवस विक्रम संवत के अनुसार मनाई जाती है। यह दिन अंग्रेजी कैलेण्डर में प्रायः अक्टूबर माह में आता है। हर वर्ष इसकी तारीख अलग-अलग होती है।)
30 अक्टूबर 2015मोतीरावण कंगाली परिनिर्वाण दिवस

नवम्बर

दिनांकअवसर
15 नवंबर 1875बिरसा मुंडा जयंती
20 नवंबर 1923आरएल चंदापुरी जयंती
22 नवंबर 1830झलकारीबाई जयंती
26 नवंबर 1949भारतीय संविधान का प्रारूप डा. आबेडकर ने पेश किया
28 नवंबर 1890जोतिबा फुले परिनिर्वाण दिवस
govind-guru
गोविन्द गुरु

दिसम्बर

दिनांकअवसर
4 दिसंबर 1889टंट्या भील शहीद दिवस
6 दिसंबर 1956आंबेडकर परिनिर्वाण दिवस
18 दिसंबर 1756घासीदास जयंती
18 दिसंबर 1887भिखारी ठाकुर जयंती
20 दिसंबर 1858गोविंद गुरु जयंती
20 दिसंबर 1956गाडगे परिनिर्वाण दिवस
21 दिसम्बर 1982अनूपलाल मंडल परिनिर्वाण दिवस
24 दिसंबर 1973पेरियार परिनिर्वाण दिवस
25 दिसंबर 1927मनुस्मृति दहन दिवस

 

फारवर्ड प्रेस वेब पोर्टल के अतिरिक्‍त बहुजन मुद्दों की पुस्‍तकों का प्रकाशक भी है। एफपी बुक्‍स के नाम से जारी होने वाली ये किताबें बहुजन (दलित, ओबीसी, आदिवासी, घुमंतु, पसमांदा समुदाय) तबकों के साहित्‍य, सस्‍क‍ृति व सामाजिक-राजनीति की व्‍यापक समस्‍याओं के साथ-साथ इसके सुक्ष्‍म पहलुओं को भी गहराई से उजागर करती हैं। एफपी बुक्‍स की सूची जानने अथवा किताबें मंगवाने के लिए संपर्क करें। मोबाइल : +919968527911, ईमेल : info@forwardmagazine.in

लेखक के बारे में

फारवर्ड प्रेस

संबंधित आलेख

गांधी को आंबेडकर की नजर से देखें दलित-बहुजन
आधुनिक काल में गांधी ऊंची जातियों और उच्च वर्ग के पुरुषों के ऐसे ही एक नायक रहे हैं, जो मूलत: उनके ही हितों के...
पुनर्पाठ : सिंधु घाटी बोल उठी
डॉ. सोहनपाल सुमनाक्षर का यह काव्य संकलन 1990 में प्रकाशित हुआ। इसकी विचारोत्तेजक भूमिका डॉ. धर्मवीर ने लिखी थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि...
उत्तर भारत की महिलाओं के नजरिए से पेरियार का महत्व
ई.वी. रामासामी के विचारों ने जिस गतिशील आंदोलन को जन्म दिया उसके उद्देश्य के मूल मे था – हिंदू सामाजिक व्यवस्था को जाति, धर्म...
सत्यशोधक फुले
ज्योतिबा के पास विचारों की समग्र प्रणाली थी और वह उन प्रारंभिक विचारकों में से थे, जिन्होंने भारतीय समाज में वर्गों की पहचान की...
कैसे और क्यों दलित बिठाने लगे हैं गणेश की प्रतिमा?
जाटव समाज में भी कुछ लोग मानसिक रूप से परिपक्व नहीं हैं, कैडराइज नहीं हैं। उनको आरएसएस के वॉलंटियर्स बहुत आसानी से अपनी गिरफ़्त...